5 दिन में टाइफाइड का आयुर्वेदिक देसी इलाज – Baba Ramdev

typhoid ka ayurvedic ilaj, typhoid ka desi ilaj

Best Solution By Baba Ramdev

Typhoid Fever का आयुर्वेदिक इलाज देसी नुस्खे Treatment

जानिये 100% natural typhoid ayurvedic treatment के बारे में by baba ramdev patanjali. इसके जरिये आप सिर्फ 5 से 6 दिनों के अंदर ही टाइफाइड के बुखार से छुटकारा पा सकते हैं. टाइफाइड गांव में इसको मोतीझरा व दाने वाला बुखार भी बोलते हैं. और यह लंबा चलता हैं. इससे एक तो लिवर पूरी तरह से खराब हो जाता हैं, भूख लगना कम हो जाती हैं और थोड़ा-थोड़ा बुखार लगातार बना रहता हैं. और एक बार जिसको टाइफाइड हो जाए फिर जिंदगी में अक्सर वह उभर नहीं पाता हैं.

मैंने देखा हैं, जिन बच्चों को बचपन में टाइफाइड हो गया हैं फिर जिंदगी भर उनकी अच्छी सेहत नहीं बन पाती. उनका Immune system एक दम Weak हो जाता हैं, रोग-प्रतिरोधक क्षमता उनकी बहुत कमजोर पढ़ जाती हैं.

5-6 दिन में टाइफाइड का Treatment इलाज कैसे करे उपाय

typhoid ayurvedic treatment in hindi

100 Natural Home Remedy

क्या करे टाइफाइड के लिए

टाइफाइड के लिए एलोपैथिक में जो दवाई दी जाती हैं वह इतनी खरतनाक होती हैं की उससे फिर आदमी का पूरा system ही बिगड़ जाता हैं. यह आंत्र ज्वर हैं आंतों में इससे सूजन आती हैं, लिवर भी इसमे कमजोर पढ़ जाता हैं और फिर आदमी सोचता हैं की बस अब तो में ठीक नहीं हो सकता. लेकिन उसकी सोच गलत है क्योंकि चाहे कैसा भी टाइफाइड फीवर हो उसका आयुर्वेदिक इलाज किया जा सकता है और टाइफाइड का आयुर्वेदिक उपचार करने से बाजार की दवा से भी दुगने अच्छे परिणाम मिलते हैं.

  • टाइफाइड फीवर के इलाज के बारे में और इसके लक्षण व कारण के बारे में जानने के लिए यह जरूर पडें. >>> (Guide) Typhoid Ka Ilaj 20 Gharelu Upay

देसी घरेलु उपाय By बाबा रामदेव

एक तो गिलोय घनवटी छोटे बच्चों को और अगर बहुत छोटे बच्चे हैं तो आदि गोली, 8-10 साल के बच्चे हैं तो 1 गोली. एक-एक गोली गिलोय घनवटी बच्चों को और बड़े दो-दो गोली भी ले सकते हैं. सुबह दोपहर और शाम.

और गिलोय घनवटी के साथ-साथ जिनको भी टाइफाइड होता ही रहता है, बुखार ज्यादा हैं तो सुदर्शन बटी भी ले सकते हैं और एक ज्वर नाशक क्वाथ हम बनाते हैं वह सभी तरह के बुखार में जबरदस्त लाभ देता हैं, इसके अंदर अनूठे गुण होते हैं. बस एक चम्मच उबाल कर के पिला दो कैसा ही बुखार हो मतलब एक दम ठीक हो जाता हैं. और इससे टाइफाइड भी जबरदस्त लाभ होगा.

Ayurvedic upay & nuskhe – टाइफाइड के लिए, मोतीझरा के लिए, दानेदार बुखार के लिए सबसे अच्छा और 100% इसका इलाज जिसको आम भाषा में बोलते हैं न एक दम “Guaranteed typhoid fever treatment” इसका वह यह हैं.

टाइफाइड के लिए सबसे ज्यादा असरकारी काढ़ा

4 से 5 मुनक्का और 8-10 अंजीर और 1 से 2 ग्राम खूबकला यह राइ से भी छोटा दाना होता हैं. एक से दो ग्राम मतलब बच्चे हैं तो 1 ग्राम बड़े हैं तो 2 ग्राम तक ले सकते हैं. छोटे बच्चे हैं तो सिर्फ दो ही मुनक्का ले लीजिये बड़े हैं तो चार ले लीजिये और बड़ी उम्र हैं तो 10 मुनक्का तक ले सकते हैं.

मुनक्का

खूबकला

अंजीर

छोटे बच्चों को एक दो अंजीर, बड़े चार पांच अंजीर ले सकते हैं. तो में बड़े के हिसाब से डोज बता रहा हूं. करीब एक से दो ग्राम खूब कला, चार से पांच अंजीर और आठ दस मुनक्का इनको लेकर कर सलबत्ती (चटनी बनाने की पट्टी) पर अच्छे से चटनी बना लें.

आयुर्वेदिक उपाय से करे टाइफाइड का इलाज

और चटनी बनाकर के इसको खा लें. खाने में भी यह अच्छे लगते हैं. मुनक्का अंजीर तो और भी बहुत ही अच्छे स्वादिष्ठ लगते हैं. तो मुनक्का, अंजीर और खूबकला यह जो खुराक बताई एक सुबह, एक बार शाम को और गिलोय घनवटी और बाकी जो उपाय बताये उसको करे बस इसमे ख़ास सावधानी यह होगी की इससे बुखार तो ठीक होगा ही और टाइफाइड का आयुर्वेदिक इलाज में भी अच्छा होगा, भूख भी अच्छी लगेगी.

(Ayuvedic treatment) बस इसके लिए आपको खाने में परहेज करना है केवल. दूध पिलाये भूख लगने पर, चीकू खिलाये या सेब पपीता अदि फल खा सकते हैं. मुंग की दाल का पानी भी पीस सकते हैं. इसके साथ ही बहुत पतली मूंग की दाल भी दे सकते हैं. चीकू मूंग की दाल या मूंग की दाल का पानी, दूध या और कोई हलके फल का सेवन कर सकते हैं. बस इतना करे.

टाइफाइड में यह खाये बाबा रामदेव

और किसी का तीन दिन में किसी का पांच दिन में यह टाइफाइड बुखार अच्छा हो जाता हैं. याद रखे बच्चों को टाइफाइड की तेज दवा कभी मत दीजिये नहीं तो उनको डायबिटीज हो सकती हैं. यह हमने देखा इसलिए आपको बता रहे हैं. छोटी उम्र में बच्चों को टाइफाइड की, पेट के कीड़े की या बुखार की तेज दवा देने से उनको हमेशा के लिए pancrease हो जाता हैं, डायबिटीज हो जाती हैं. जो हमने आपको घरेलु इलाज बताया हैं इससे हानि होने की तो कोई संभावना हैं ही नहीं लाभ ही लाभ होगा और टाइफाइड 100% ठीक होगा.

टाइफाइड बुखार में कब और क्या खाना चाहिए यह Detail में जानने के लिए यह जरूर पडें >>> Diet For Typhoid Fever

Gharelu ilaj – उम्मीद हैं दोस्तों आपको (पतंजलि) टाइफाइड का आयुर्वेदिक इलाज व देसी उपचार जो की बाबा रामदेव द्वारा बताया गया है इसके बारे में जानकर बहुत ही अच्छा लगा होगा. आप इसके उपयोग से बिना की टाइफाइड की दवा के ही टाइफाइड फीवर से छुटकारा पा सकते हैं. बस बताये गे तरीके के अनुसार इन घरेलु उपाय का उपयोग करे.

इसे जितना हो सके Facebook, Google Plus, Twitter और Whatsapp Groups पर SHARE करे ताकि यह सभी लोगों तक पहुंच सके. और उन लोगों तक भी पहुंच सके जो डॉक्टरी इलाज नहीं करवा सकते.

83 Comments

  1. arvind devre
  2. Ask Your Question
  3. अशोक सिंह
  4. Ashok singh
  5. Ask Your Question
  6. sadiya
  7. Ask Your Question
  8. Preeti
  9. Ask Your Question
  10. jagdish
  11. Ask Your Question
  12. manish
  13. Ask Your Question
  14. manish
  15. Ask Your Question
  16. Ravinder
  17. BABA
  18. Narendra Tomar
  19. BABA
  20. BABA
  21. Priya yadav
  22. Abhishek Verma
  23. BABA
  24. Waseem
  25. anku
  26. BABA
  27. बलवीर सिंह
  28. Ved
  29. ravi kumae
  30. BABA
  31. Akansha
  32. BABA
  33. Dalchand
  34. BABA
  35. SANJAY KUMAR RAJBHAR
  36. BABA
  37. Rajesh kumar gupta
  38. Baba
  39. Baba
  40. parvez
  41. Hariman
  42. Baba
  43. Baba
  44. Vikash gupta
  45. prateet
  46. Baba
  47. Pinki verma
  48. Praveen Kumar gupta
  49. Editorial Team
  50. Editorial Team
  51. vijay kumar
  52. pritam
  53. preet
  54. Editorial Team
  55. Editorial Team
  56. Gaurav Gujjar
  57. Anupama sahu
  58. Anupama sahu
  59. Editorial Team
  60. Editorial Team
  61. Ravi panghal
  62. दिनेश चंद्र शर्मा
  63. Editorial Team
  64. Manju
  65. Editorial Team
  66. prakash
  67. hgupay.com
  68. hgupay.com
  69. Soniya
  70. sunil kumar tamta
  71. Neeraj
  72. hgupay.com
  73. Abhishek
  74. Abhishek
  75. hgupay.com
  76. Deepak ray
  77. hgupay.com
  78. brij
  79. hgupay.com
  80. chetan tiwari
  81. hgupay.com
  82. Vikas

Leave a Reply

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.

हमसे Facebook पर अभी जुड़िये, Group Join करे "Join Us On Facebook"