gas ka ilaj, gas treatment in hindi, pait mein gas in hindi

पेट में गैस बनने का [ जड़ से इलाज ] करने के 9 उपाय और दवा

पेट में गैस का इलाज की दवा इन हिंदी – आज के समय में इस समस्या से ज्यादातर लोग परेशान हैं, इससे शर्मिंदगी भी बहुत महसूस होती हैं. यह हमारे अनियमित जीवनशैली के वजह से होता है, समय पर भोजन नहीं करना, पानी की कमी, तली मसालेदार चीजों का ज्यादा सेवन आदि इसके कई कारण होते है. इससे छुटकारा पाने के लिए कई व्यक्ति तो गैस की दवा टेबलेट्स का सेवन करते है लेकिन उन्हें इससे ज्यादा लाभ नहीं होता और पेट में गैस बनना नहीं रूकती. हम यहां आपको उपचार करने के लिए आयुर्वेदिक घरेलु नुस्खे बताएंगे जिनके जरिये आप घर पर ही गैस बनने को रोक सकेंगे आइये जाने.

गैस क्यों बनती हैं

जल्दी भोजन करने से, ज्यादा वक्त खाली पेट रहने से, तला हुआ भोजन ज्यादा करने से, पेट ठीक से साफ नहीं होने से, देर से पचने वाली चीजे ज्यादा खाने से, खाना खाने के बाद तुरंत सो जाने से, शरीर में पानी की कमी से, मोटापा, शुगर, कभी भी कुछ भी खा लेने से, ज्यादा भरी आहार लेने से, आदि पेट की गैस बनने के कारण बनते है, इसलिए इन सभी आदतों में सुधर लाये तो अपने आप ही यह समस्या ख़त्म हो जाएगी remedies for pait me gas treatment in Hindi.

गैस आने पर उसे रोकना नहीं चाहिए, अगर आप पेट में गैस बनने पर रोकते है तो यह शरीर में गंभीर रोग पैदा कर सकती हैं. जब हम गैस को रोकते है तो यह शरीर में ऊपर की ओर चढ़ती है ओर मस्तिष्क तक पहुँच जाती है. यहां पहुंचकर यह व्यक्ति की मानसिकता को नुकसान पहुंचाती है और अन्य कई पेट के रोगों को जन्म देती हैं. गैस को रोकने से नपुंसकता, यौन रोग, पेट के रोग, पाचन ख़राब होना, आंतो का ख़राब होना, बवासीर  आदि नुकसान होता हैं.

  • यह रामबाण नुस्खे बताये है, आप इस पोस्ट को ध्यान से पूरा एन्ड तक जरूर पड़ें, जल्बाजी न करे.

gas ka ilaj, gas treatment in hindi, pait mein gas in hindi

गैस का इलाज के उपाय और दवा

Pait Me Gas Ka ilaj in Hindi

  • रोजाना सुबह के समय खाली पेट एक कप गौ मूत्र पिने से पेट में गैस बनना बंद हो जाती है, इससे पाचन शक्ति तेज होती है, शरीर की शुद्धि हो जाती है इसीलिए यह घरेलु उपाय गैस की समस्या में रामबाण इलाज करता हैं.
  • दिन में तीन बार हींग को हलके गर्म पानी में मिलाकर, अच्छे से घोलकर पीने से एसिडिटी, कब्ज, पेट की गैस का रोग आदि में तुरंत लाभ होता है. यह सबसे आसान घरेलु नुस्खे में से एक हैं.
  • अगर आपको यह रोग ज्यादा होता रहता है तो दिन में दो तीन बार नीबू की चाय पीना शुरू करे. इसके अलावा अगर सुबह खाली पेट नीबू पानी पिया जाए तो यह घरेलु उपाय भी ज्यादा पेट में गैस बनना से रोकता है.
  • घरेलु इलाज के लिए दिन में जब भी आप भोजन करे तो भोजन करने के बाद आखिर में एक कप दही का सेवन अवश्य करे, दही पेट के रोगो का रामबाण उपचार करता है सभी तरह के पेट के रोग एसिडिटी, कब्ज, अपच आदि में लाभ करता हैं.
  • पेट में गैस, एसिडिटी होने पर तुरंत इलाज करने के लिए आधा या एक चम्मच जीरा ले और इसे दांतों से चबाकर खले, इसको खाने के बाद एक गिलास हल्का गर्म पानी पि लें. इस छोटे से उपाय से तुरंत लाभ होता है. हजारों लोगों ने इसे आजमाया है.
  • रोजाना खाना खाने के बाद याद से 1 लौंग व इलाइची जरूर खाये, यह उपाय एसिडिटी व गैस के रोग में बहुत फायदा करता है.
  • पेट में गैस बनना रोकने के लिए भोजन करने के बाद 10-20 ग्राम गूढ़ खाने से गैस नहीं बनती हैं, यह बहुत ही सरल उपाय है और हमने इस नुस्खे को कई हजारों लोगों पर आजमाया है. बस शर्त यह है की आप नियमित रूप से इसका सेवन करे और भोजन करे के तुरंत बाद ही गूढ़ खाये, यह एक असरदार गैस के घरेलु नुस्खे में से एक हैं.
  • सब्जी, सलाद आदि में काला जीरा व सामान्य जीरा मिलाकर बनाये. खाने की हर चीज में अजवाइन को मिलाये, इस छोटे से प्रयोग से गैस, एसिडिटी, कब्ज आदि रोगों से छुटकारा मिलता है व पाचनशक्ति बढ़ती हैं.
  • 2 लहसनु की कली के बारीक़ टुकड़े कर ले व इसमें नीबू रस व काला नमक डाल दें. आपस में अच्छे से मिला लें और नियमित रूप से रोजाना सुबह के वक्त पेट खाली होने पर हलके गर्म पानी के साथ इनको खा जाए. यह आयुर्वेदिक उपाय पेट के कई बम्भीर रोगों से बचाता हैं व गैस की समस्या का समाधान करता है.
  • घरेलु इलाज के लिए काला नमक को हलके गर्म पानी में मिलाकर पिने से पेट के सभी रोगों में आराम मिलता है, गैस, एसिडिटी, अजीर्ण आदि सभी में लाभ होता हैं.

gas ke gharelu upay, gas ke gharelu nuskhe, gas ke gharelu nuskhe in hindi,

  • रोजाना सुबह खाली पेट अलोएवेरा के पत्तो के गुदा का रस बनाकर पिने से एसिडिटी, कब्ज, pet mein gas ka ilaj होता हैं. यह उपाय और भी कई हजारों लाभ करता हैं जैसे धात की शिकायत, लिवर की कमजोरी, पाचन शक्ति, इम्युनिटी आदि सभी को तेज करता हैं.
  • घरेलु इलाज में नीबू रस 2 चम्मच और आधी चम्मच सेंधा नमक को गन-गुने पानी में मिक्स करके पिए, यह पेय तुरंत लाभ करता है. नीबू बहुत ही लाभ करता है.
  • पेट की गैस कैसे निकाले : दालचीनी भी बहु प्रभावकारी होती है, इसके लिए एक डेढ़ चम्मच दालचीनी को पानी में डालकर उबाल लें फिर इसमें 1-2 चम्मच शहद मिलाकर मिक्स कर ले. इस तरह रोजाना सुबह खाली पेट इस उपाय को करे गैस के उपचार में यह बहुत ही प्रभावकारी होता हैं.
  • अदरक के टुकड़े को चबाकर खाने से भी भी लाभ होता है व अदरक को उबालकर उसका उबला हुआ पानी पिने से भी अत्यंत लाभ होता है.
  • एक चम्मच जीरा एक गिलास पानी में मिलाकर पिने से गैस की समस्या दूर होती है व पाचन शक्ति बढ़ती हैं. इसी तरह जीरा गैस ट्रीटमेंट करता है.
  • भोजन के साथ सलाद जरूर खाये, रोजाना प्याज, टमाटर, धनिया, काला जीरा, सेंधा नमक, अजवाइन आदि चीजों का सलाद बनाकर
  • पेट में गैस बनना रोकने के लिए भोजन के साथ खाये इससे गैस की समस्या से छुटकारा मिलता हैं, यह छोटा सा प्रयोग गैस का घरेलु उपचार करता है, प्राचीन समय से सलाद को इसीलिए इतना महत्वा दिया जाता है.

सबसे तेज और आसान आयुर्वेदिक उपाय

  • लहसुन को सुबह खाली पेट ऐसे ही निगल जाने से पेट के सभी रोगों में लाभ होता है.
  • जीरा और 1-2 लहसुन को 12 ग्राम घी में भून लें, और रोजाना भोजन करे से पहले इस पेट की गैस के उपाय का सेवन करे.
  • जिसको ज्यादा गैस बनती है उसे रोजाना पानी में लौंग उबालकर वह पानी पिलाये
  • भोजन करने के बाद एक कप दही व थोड़ा सा गूढ़ अवश्य खाये
  • आधा चम्मच सेंधा नमक और इतनी ही अजवाइन ले दोनों को मिलाकर एक ग्लास हलके गर्म पानी में मिला दें और इसका सेवन करे यह भूख को भी खोलता है एसिडिटी गैस से छुटकारा दिलाता है.
  • अदरक की चाय पिए या फिर अदरक के रस में थोड़ा सा गर्म पानी मिलाये व जरा सी शक़्कर मिलाकर पिए.
  • घरेलु इलाज में खाना खाने के बाद तुरंत सौंफ व मिश्री मिलाकर खाने से भी एसिडिटी व कब्ज, गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है.
  • लस्सी पिने से भी पेट के रोगों में लाभ होता हैं एसिडिटी, गैस आदि में आराम मिलता है
  • रोजाना सुबह सिर्फ छाछ पिने से ही पेट के समस्त रोगो में लाभ होता है.
  • भोजन करने के आधे घंटे बाद छाछ मट्ठा जिसमे काला जीरा और धनिया की पत्तियां मिली हो को पिने से भी बहुत लाभ होता है गैस बिलकुल भी नहीं बनती, यह गैस का रामबाण उपचार करता हैं.
  • लौंग को दिन में कई बार चूसते रहने से गैस, एसिडिटी के रोग नहीं होते
  • पेट में गैस का इलाज करने के लिए पुदीना की चाय पिने से भी गैस की शिकायत पैदा नहीं होती है
  • अदरक के टुकड़े में नमक डालकर चूसे या अदरक की चाय पिए, ऐसा भोजन करने से पहले करे व गैस बनते वक्त भी कर सकते है.
  • कालीमिर्च को शहद के साथ खाने से बहुत लाभ होता है.

pait mein gas ka ilaj, gas ka ilaj, gas ka gharelu ilaj,

पेट में गैस की दवा

  • गैस से छुटकारा पाने के लिए ज्यादा दवा का प्रयोग नुकसानदायक होता है. इसलिए बताये गए गैस के घरेलु उपाय को करिये और ज्यादा बाजार की दवा चूर्ण न खाये. इसमें आप सिर्फ पतंजलि की दवा “Divya Gashar Churna” का सेवन कर सकते है, इस पतंजलि की गैस की दवा को आप पतंजलि स्टोर से खरीद सकते है. बाकी किसी भी चूर्ण का रोजाना सेवन करने से उसका असर ख़त्म हो जाता है.

गैस को जड़ से ख़त्म करने के लिए

  • शारीरिक श्रम करने से एसिडिटी, कब्ज, गैस के रोग नहीं होते इसलिए रोजाना घूमने जाए या फिर GYM ज्वाइन करे, यह प्राकृतिक उपचार है. अगर आप रोजाना शरीर से पसीना बहते है तो आपको यह रोग 1% भी नहीं होंगे.
  • गैस का इलाज में आप रोजाना सुबह उठने के बाद तुरंत ही पेट भरकर 2-3 ग्लास पानी पिए, अगर आप इस उपाय को रोजाना करते है तो इससे आपको कभी गैस, एसिडिटी, अपच, पेट साफ़ नहीं होना आदि समस्या नहीं होंगे.  इससे जिन लोगों को सुबह समय पर शौच नहीं आता उनको भी शौच समय पर आजाता है, बताये जा रहे सभी घरेलु इलाज और उपचार के लिए अत्यंत प्रभवकारी है.

गैस की शिकायत होने पर यह योग करे

अपने अंगूठे के पास की उंगली को अँगूठ से दबाकर बैठने से शरीर में वायु नियंत्रित होती है व पेट की गैस से छुटकारा मिलता हैं.

बाबा रामदेव के बताये हुए यह योग करने से भी आपको बहुत लाभ होगा, अगर आप सिर्फ यह योग करते है और बाकी सभी नुस्खे को नहीं करते तो भी आपको इन योग से घरेलु इलाज हो जायेगा.

  • पवनमुक्तासन
  • सर्वांगासन
  • मत्स्यासन
  • उत्तानपादासन
  • मंडूकासन
  • कपालभाति प्राणायाम
  • अनुम विलोमा प्राणायाम

बस इसमें विशेषकर आप सुबह पेट साफ़ हो जाने के बाद पवनमुक्तासन अवश्य करे, यह आसान गैस और पेट के रोगों के लिए रामबाण होता हैं.

और साथ ही अपनी जीवनशैली को बदले, रोजाना पैदल चले, ऐसे काम करे जिससे शरीर से पसीना निकले. भोजन भी सोने से तीन घंटे पहले ही करे इसके साथ ही योग प्राणायाम करेंगे तो आपको बहुत तेजी से राहत मिलेगी.

दोस्तों इस तरह से आप बताये गए पेट में गैस बनना के घरेलु उपाय और gas ka ilaj stomach gas treatment in Hindi को अपनाकर इस समस्या का समाधान कर सकते है. बाकी आप अपनी जीवनशैली में परिवर्तन लाये और चूर्ण और गैस की अंग्रेजी दवा का सेवन ज्यादा न करे, इसके बदले नुस्खों को आजमाए.

loading...

One Response

  1. Shraddha Gupta

Leave a Reply

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.