hepatitis treatment in hindi, hepatitis b treatment in hindi, hepatitis b ayurvedic treatment in hindi,

Hepatitis A,B,C Treatment in Hindi By Baba Ramdev Ayurvedic

यहां पर आप जानेंगे हेपॅटिटिस का इलाज 100% करने के लिए उपाय Hepatitis A b c treatment in Hindi me. बाबा रामदेव आपको बताएंगे की हेपॅटिटिस का ट्रीटमेंट करने के लिए किन आयुर्वेदिक चीजों का उपयोग करना चाहिए आदि.

आपसे गुजारिश हैं की आप इस लेख को ज्यादा से ज्यादा Facebook, Whatsapp आदि सभी जगह पर शेयर करे. शेयर करने के लिए यहां ऊपर व निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर क्लिक करे.

Hepatitis A, B, C Treatment By Baba Ramdev in Hindi 100% Cure

hepatitis treatment in hindi, hepatitis b treatment in hindi, hepatitis b ayurvedic treatment in hindi,

Hepatitis A, hepatitis B, hepatitis C और hepatitis जब बिगड़ जाता हैं तो liver cirrhosis हो जाता हैं. और liver cirrhosis के बाद लिवर ट्रांसप्लांट, यही मॉडर्न मेडिकल साइंस में इलाज हैं लिवर की बीमारी का. हेपॅटिटिस के लिए एलॉपथी में कोई मेडिसिन नहीं हैं, जो दवाइया दी जाती हैं हेपॅटिटिस को कण्ट्रोल करने के लिए पहली बात तो वह इतनी महंगी होती हैं की गरीब आदमी उन्हें ले ही नहीं सकता और इनको लेने के बाद भी हेपॅटिटिस तो ठीक होता नहीं.

लेकिन हमने देखा जिनको chronic hepatitis A, hepatitis B, hepatitis C था उनको भी हमने लगातार कपालभाति कराया. पंद्रह मिनट से लेकर आधे घंटे तक और रिजल्ट में हमने पाया की आधा-आधा घंटा कपालभाति करने से हेपॅटिटिस की प्रॉब्लम 100% ठीक हो जाती हैं. Kapalbhati is best for hepatitis a b c treatment in hindi by baba ramdev.

“विज्ञानं की कसौटी पर योग” इस पुस्तक में हमने उन रोगियों की जानकारी दी हैं जिनको पहले हेपॅटिटिस था और बाद में हमने उसे ठीक किया. और हमारे तमाम पतंजलि चिकित्सालय और आरोग्य केन्द्रो पर भी हम इसके लिए औषधि भी उपलब्ध करा रहे हैं.

और हम 99% पूरी प्रमाणिकता के साथ इस बात को कहते हैं की इससे लाभ होगा. 1% कोई बहुत ही क्रोनिक केस हो तो वक्त लग जाता हैं, लेकिन वह भी ठीक होते हैं इसकी भी प्रमाणिकता हम देते हैं. तीन से छह महीने के अंदर चाहे कितना ही पुराना हेपॅटिटिस हो कपालभाति को करने से ठीक हो जाता हैं.

जाने बाबा रामदेव से हेपेटाइटिस का इलाज आयुर्वेदिक उपचार

इस घरेलु उपाय को भी करे – सर्व्कल्प क्वाथ सुबह शाम खाली पेट पीना, कुमार्यासव या लोहासव खाने के बाद पीना और क्योंकि लिवर बहुत कमजोर हो जाता हैं ऐसी अवस्था में रोगी को कामदुधा रस 10 ग्राम, मोती पिष्टी 2 से 4 ग्राम, वसन्तमालती रस भी रोगी को एक से दो ग्राम तक दे सकते हैं, गिलोय सत भी लगभग 10 ग्राम मिला दें.

और जैसी रोगी की अवस्था होती हैं उसके अनुसार उसको स्वर्ण माक्षिक भस्म या पुनर्नवा मंडूर भी रोगी को देते हैं. यह सब पाउडर जो अभी हमने बताये हैं इनको मिलाकर के आधा-आधा ग्राम सुबह शाम मिलाकर के खिला दीजियेगा.

भोजन करने के बाद उदरामृत, आरोग्यवर्धनी वटी और आरोग्य वटी जो गिलोय, तुलसी और नीम मिलाकर के बना हैं यह शरीर में किसी भी तरह के इन्फेक्शन को दूर करने में बहुत बड़ा रोल निभाती हैं.

लिवर की कमजोरी के लिए रामबाण ट्रीटमेंट हैं गेहूं का रस

जिनका लिवर कमजोर हो हेपॅटिटिस हो या बार-बार जॉन्डिस होता हो, भूख न लगती हो उनके लिए गेहूं के जवारे का रस बहुत बढ़िया काम करता हैं (Wheat Grass Juice). हमने देखा जिनको भी क्रोनिक हेपॅटिटिस था उन सब को हमने गेहूं का रस और अलोएवेरा का रस पिलाया थोड़ा गिलोय का भी रस पीला देते हैं यह रोगप्रतिरोधक क्षमता को अच्छा बना देती हैं.

तो अलोएवेरा का रस 25mm से 50mm, गेहूं का रस यह भी 25-50mm और करीब एक फ़ीट गिलोय की डंडी इसका कूटकर के रस निकाल के पीला देते हैं. तो इससे हेपॅटिटिस का ट्रीटमेंट हो जाता हैं. Hepatitis A, Hepatitis B, Hepatitis C etc.

  • श्योनाक रात को भिगो कर के और सुबह उसका पानी पीला देते हैं. Hepatitis treatment ayurvedic Hindi me A B C.
  • भूमि आंवला और पुनर्नवा इनका ताज़ा रस मिलजाए तो और भी बढ़िया नहीं तो सूखा मिला तो इनका क्वाथ यानी काढ़ा बना कर के पीला देते हैं. तो इन सभी से हेपॅटिटिस 100% क्योर हो जाता हैं.
loading...

Leave a Reply

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.