पेट के कीड़े की अंग्रेजी दवा, पेट में कीड़े की दवा, पेट में कीड़े मारने की दवा, पेट में कृमि, pet ke keede ka ilaj

पेट के कीड़ो को जड़ से ख़त्म करने का इलाज और दवा

पेट के कीड़े का इलाज की दवा इन हिंदी – यह बच्चों के लिए आम समस्या है, यह कीड़े अमाशय और आंतड़ियो में पाए जाते है. यह रोग ज्यादातर बच्चों में ही पाया जाता है इसका समय पर कीड़े की दवा से उपचार करवा लेना चाहिए क्योंकि ज्यादा समय तक यह रोग होने से शरीर कमजोर पड़ता है. यह मिटटी में खेलने, कुछ भी खा लेने से, गन्दा पानी पिने से पेट में छोटे-छोटे कीड़े जन्म ले लेते है, यह कई तरह के होते है. इस लेख में हम आपको पेट में कीड़ो को मारने के उपाय  बताएंगे इनके जरिये आप बड़ी आसानी से बिना किसी अंग्रेजी दवा के इनसे छुटकारा पा सकते है stomach worms keede marne upay in Hindi.

pet me kide hona, bachon ke pet me kide hona

कीड़े सूत की तरह सफ़ेद और चौड़े चपटे व हुक वार्म की तरह के होते है. ज्यादा मीठा खाने से, पुरानी कब्ज, अजीर्ण, दूषित पानी पिने से, कच्ची हरी सब्जी खाने से व मिटटी आदि कुछ भी मुंह में लेने आदि यह पेट में कृमि कीड़ो के होने का कारण बनते है. इसके लिए ज्यादातर लोग पेट के कीड़े की मेडिसिन दवा का प्रयोग करते है लेकिन निचे दिए जा रहे आयुर्वेदिक नुस्खों से भी यह संभव है.

  • यह बहुत ही असरकारी उपाय दिए है, आप इन्हे पुरे ध्यान से आखिर एन्ड निचे तक पूरा पड़ें.

पेट में कीड़े के लक्षण

  • त्वचा का रंग बदल जाना
  • गाल पर धब्बे पढ़ना
  • जीभ का सफ़ेद होना
  • नाक और मलद्वार में खुजली होना
  • हल्का बुखार होना
  • हल्का पेट में दर्द होना
  • खून की कमी
  • पेट बढ़ा और कठोर हो जाता है
  • बच्चों के मुंह से लार टपकती है
  • बच्चे रात को सोते समय दन्त किटकिटाते है
  • बिस्तर पर पेशाब करना
  • मुंह से बदबू आना
  • मल त्याग के समय खून आना
  • आदि यह सभी पेट में कीड़े के लक्षण होते है.

पेट के कीड़े के प्रकार

  • टेप वर्म – ये कीड़े एक इंच से लेकर कई फुट तक लम्बे होते है. इनमे नर व मादा दो प्रकार के होते है. नर कीड़ा छोटा और मादा कीड़ा बड़ा होता है.
  • थ्रेड वर्म – ये कीड़े पतले धागे की तरह सफ़ेद रंग के होते है. जो मल के साथ निकलते है. पेट में कीड़ो के होने से रात को गुदा मलद्वार में भयंकर खुजली होती है, लार टपकती है आदि यह प्रकार ज्यादा लोगो में पाया जाता है.

पेट के कीड़े की अंग्रेजी दवा, पेट में कीड़े की दवा, पेट में कीड़े मारने की दवा

पेट के कीड़े का इलाज और मारने के उपाय

Pet Me Keede Ki Dawa Medicine in Hindi

  • तीन साल से पांच साल के बच्चों के लिए – अजवाइन का चूर्ण आधा ग्राम लेकर संभाग गूढ़ में गोली बनाकर दिन में तीन बार खिलाने से हर प्रकार के पेट के कीड़े ख़त्म हो जाते है.
  • सुबह उठते ही बच्चे दस ग्राम और बड़े व्यक्ति 25 ग्राम गूढ़ खाकर दस पंद्रह मिनट आराम करे. सब कीड़े निकलकर एक जगह जमा हो जायेंगे. फिर बच्चे आधा ग्राम और बड़े एक दो ग्राम अजवाइन का चूर्ण बासी पानी के साथ खाये. इससे आंतो में मौजूद सब प्रकार के कीड़े एक दम नष्ट होकर मल के साथ तुरंत ही बाहर निकल जाते है.
  • बच्चों के पेट में कीड़े के लिए चुटकी भर काला नमक ले और इसे आधे ग्राम अजवाइन के चूर्ण में मिक्स कर दें और रात को सोने से पहले हलके गुनगुने पानी के साथ दें. यह खासकर छोटे बच्चों के कीड़ो को ख़त्म करता है, यह प्रयोग रोजाना करे. बड़े व्यक्ति इसकी मात्रा को 3-4 गुना बढ़ाकर ले सकते है.
  • आधे ग्राम अजवाइन के चूर्ण को एक कप छाछ अथवा मट्ठे में घोलकर पिलाये. बड़े व्यक्ति को इसकी तीन चार गुना मात्रा बढाकर दे सकते है. यह यह पेट में बनने वाले कीड़े को मारने की दवा की तरह असरकारी है. इस उपाय को तीन चार दिन तक लगातार करे.
  • टमाटर को काट लें और उसमे सेंधा नमक और कालीमिर्च लगा दें, अब इसे रोजाना शाम के समय खाली पेट होने पर खाये. नोट इस टमाटर को खाने के दो घंटे पहले व दो घंटे बाद तक कुछ भी खाना पीना नहीं है. इससे कीड़ो का जड़ से सफाया होता है ऐसा लगातार एक दो सप्ताह तक रोजाना करे जिससे कीड़े जड़ से नष्ट हो जायेंगे.
  • लहसुन और गूढ़ को बराबर की मात्रा में पीसकर तीन ग्राम और दस ग्राम की गोलियां बना लें. बच्चों को तीन ग्राम व बड़ों को दस ग्राम की एक गोली सुबह खाली पेट तीन चार दिनों तक खिलाये. इससे कीड़े मरकर बाहर निकल जाते है. ये पेट के कीड़े की अंग्रेजी दवा से कम कारगर नुस्खा नहीं है.
  • लहसुन की 5 कलियां छीलकर, बारीक़ बारीक़ टुकड़े काटकर 15-20 दाने मुनक्का या दो चम्मच शहद के साथ दिन में तीन चार बार खाने से कीड़े मरकर मल के साथ बहार निकल जाते है.
  • लहसुन की गांठ की नाम की भस्म एक ग्राम सुबह शाम शहद के साथ चाटने से कीड़े मर जाते है.
  • एक गिलास छाछ में 10-12 बून्द लहसुन के रस की मिलाये और हर तीन घंटे बाद इसको बनाकर पिए तो एक ही दिन में कीड़े मरकर मल के साथ बाहर निकल जाते है, यह तुरंत असरकारीपेट के कीड़े का घरेलु उपाय है.
  • 5 बून्द नीम का तेल बच्चों को उनकी उम्र के मुताबिक देने से  कीड़े मर जाते है.
  • 5 ग्राम नीम की पत्तियां जरा सी हींग के साथ पीसकर चटाने से पेट के सभी कीड़े मर जाते है.

pet ke kide, pet me kide,, pet me kide ki dawa, pet ke keede ki medicine

  • आधा कप चाय में 4-5 बून्द नीम के पत्तो के रस की डालकर पिने से कीड़े मरकर मल के साथ निकल जाते है, यह पेट व आंतों में मौजूद कीड़ो को मारने की आसान दवा है किसी भी मेडिसिन से ज्यादा लाभकारी व आसान है.
  • 2 चम्मच नीम के पत्तो के रस को आधे चम्मच शहद में मिलाकर चाटने से भी कीड़े मर जाते है.
  • एक चम्मच प्याज का रस आधा चम्मच शहद मिलाकर रात को सोते समय पिलाने से कीड़े मरकर मल के साथ निकल जाते है.
  • एक चम्मच करेले के रस में एक चकमंच त्रिफला का चूर्ण मिलाकर खाने से कीड़े मर जाते है.
  • रोजाना सुबह खाली पेट गौ मूत्र को पिए और उसके आधे घंटे बाद तक कुछ न खाये पिए तो पेट की सफाई होकर कीड़े मर जाते है. पेट के कीड़ो को बनने से रोकने का उपाय में यह बहुत ही असरकारी है.
  • मरुआ के पत्तों को धोकर थोड़ी मात्रा में अदरक, हरी मिर्च, आंवला, नमक मिलाकर चटनी बनाकर सेवन कराये. यह उपाय बाबा रामदेव पतंजलि द्वारा बताया गया है. छोटे बच्चों को इस तरह भी दे सकते है – मरुआ के पत्तों को पीसकर 5 बून्द रोजाना सुबह खाली पेट उसे पिलाये ऐसे एक सप्ताह तक करे.

इन बातों का ध्यान रखें

  • साफ़ सफाई का ध्यान रखे
  • मीठा कम खाये
  • साफ़ पानी पिए
  • समय पर शौच करे
  • नाखुनो को बड़ा न होने दें
  • करेले की सब्जी खाते रहे
  • करेले का रस भी पिए
  • मूली के रस का ज्यादा सेवन करे

तो दोस्तों इस तरह अगर आप बताये गए इन उपायों को आजमाते है तो आपको किसी भी तरह की अंग्रेजी दवा का इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं रहेगी. यह उन सभी से ज्यादा असरकारी और फायदेमंद है इनके कोई नुकसान भी नहीं होते. साथ ही हमने आपको ऐसे उपाय भी दिए है जिनको करने से जड़ से कीड़े मर जायेंगे.

तो अब आप इन पेट के कीड़े की दवा मेडिसिन नाम stomach worms treatment in Hindi का नियमित रूप से उनका सेवन करे. तो अब आप पेट के कीड़े मारने का इलाज हो जायेगा. कई हजारो लोगों के बच्चों को इन उपायों से आराम हुआ है तो फिर आपको क्यों नहीं होगा थोड़ा स्वदेशी पर भी विश्वाश करके देखिये.

Leave a Reply

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.