पायरिया का जड़ से इलाज : बाबा रामदेव के उपाय (Pyria)

loading...

payriya ka ilaj, payriya ka ilaj in Hindi,

पायरिया का इलाज इन हिंदी – मसूड़ों के अंदर सूजन होना बहुत बुरी problem होती है. या यूं कहे की बिना दांतों के हम जिंदगी का स्वाद ही नहीं ले पाते. और दूसरी बात यह की पायरिया रोग होने से पेट भी खराब होने लगता है, पाचन शक्ति भी कमजोर हो जाती हैं. मुंह से बुरी बदबू आने लगती है आदि.

दांतो से जुड़े सभी रोग सही खान-पान को नजर अंदाज करने के वजह से होते हैं. ज्यादा चाय पीना, ड्रिंकिंग करना, ज्यादा ब्रश करना और Genetically. और जैसे-जैसे मसूड़े कमजोर होती जाती हैं वैसे ही दांत भी कमजोर होते जाते हैं, और ऐसा होने पर पूरा जीवन फीका पड़ जाता हैं.

इसके लिए रोगी पायरिया में ज्यादातरअंग्रेजी दवा का प्रयोग करते है, पायरिया का दांत मंजन खोजते है लेकिन इन सब से कुछ भी नहीं होगा आप सिर्फ कुछ दिन निचे दिए जा रहे घरेलु उपाय करे तो आपको खुद फायदा मालूम हो जायेगा.

तो जीवन में पढ़ने वाले इस फीकेपन से बचने के लिए हम आपको Pyria ठीक करने के लिए बाबा रामदेव के आयुर्वेदिक घरेलु उपाय और नुस्खे बता रहे है. स्वामी बाबा रामदेव के हम ऐसे 3 नुस्खे बताने वाले है जिनको अपना कर आप पायरिया से जिंदगी भर के लिए मुक्ति पा सकते हैं. जी हाँ हजारों लोगों ने इनसे मुक्ति पाई है, यह ट्रीटमेंट महंगा भी नहीं है और बिना किसी ऑपरेशन के या किसी तनाव के आप छुटकारा पा सकेंगे payriya treatment solution in Hindi.

पायरिया का इलाज के घरेलु उपाय

Solution Of Pyria Treatment in Hindi

  • एक चुटकी हल्दी और इतना ही रोजाना खाये जाने वाला सादा नमक ले और इसमें 6 बुँदे सरसों के तेल की मिलाकर मिक्स कर ले. अब अपनी एक उंगली से इस मिक्सचर को मसूड़ों, दांतों पर लगा दें पेस्ट की तरह फिर अगले 15-20 मिनट तक आप मुंह बंद रखे और इस दौरान जो मुंह में लार बने उसे अंदर नहीं उतारे बाद में उसे थूकना है. वैसे तो यह एक ही बार के प्रयोग में पायरिया को ख़त्म कर देता है लेकिन अगर वह पुराना है तो 3-4 का समय ले सकता है इसके लिए आप रोजाना यह प्रयोग करे जब तक पायरिया ठीक नहीं हो जाता. (अगर मुंह थूक से ज्यादा भर जाए तो तुरंद थूक दें, और वापस दांतों पर यह मिश्रण मिक्सचर वापस लगाए) यह उपाय पायरिया की दवा से भी ज्यादा असरकारी है.
  • कपूर के टुकड़े को पानी में मिलाकर खाये और थूक आने पर उसे थूकते रहे. ऐसा रोजाना करते रहने से pyria ख़त्म होती है पायरिया से छुटकारा मिलता है.
  • नीबू और शहद को मिलाकर दांतों पर लगाए तो भी लाभ होता है.
  • देसी घी शुद्ध को कपूर के साथ में मिलाकर भी दांतों पर लगा सकते है.
  • पायरिया दंत मंजन : नीम की पत्तियों को सुखाकर पाउडर बना लें और इसमें नमक मिलाकर दांतों पर रोजाना लगाए, ब्रश भी कर सकते है लेकिन ऊँगली से (सेंधा नमक ले)
  • आंवला चबाकर कहते रहने से भी इस रोग का घरेलु इलाज होता है.
  • अगर पायरिया के साथ दांत में कीड़े हो तो आप प्याज के छोटे से टुकड़े को गैस पर रखकर हल्का सा गर्म करके जहाँ कीड़ा हो वहां पर रख दें तो वह तुरंत मर जायेगा. मुंह में प्याज रखने से लार बनेगी तो इस लार को सभी दांतों पर घुमाये.

चिरचिटा, अपाम मार्ग (Achyranthes aspera),

Pyria disease : अपाम मार्ग नाम का पौधा पायरिया के लिए रामबाण होता है. यह भारत में कहीं भी बड़ी आसानी से मिल जाता हैं. इस पौधे में आने वाले छोटे-छोटे दानो को निकालकर उनकी खीर बनाकर खाई जाती हैं. यह पायरिया में रामबाण होता है, और 100 प्रतिशत लाभ देता है.

यह खासकर पायरिया के लिए बहुत-बहुत फायदेमंद दातुन हैं. कुछ दिनों के प्रयोग से ही आपकी मसूड़ें मजबूत हो जाएंगी, और मसूड़ों से जुडी सभी परेशानियां खत्म हो जाएंगी. इसके लिए आप इस पौधे की पतली टहनियों से दांत साफ़ कर सकते है व इसकी खीर बनाकर भी खाये. यह पौधा आराम से आपको मिल जायेगा.

कपालभाति करे (Yoga)

कपालभाति के जरिये आप पायरिया से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं. आप भी यह सुनकर सोच रहे होंगे की कपालभाति प्राणायाम पायरिया से कैसे छुटकारा दिला सकता हैं ?? लेकिन यह सच हैं कपालभाति करने से शरीर के सभी रोग अपने आप ठीक होने लगते है. यह खुद बाबा रामदेव ने भी किया था, उनको भी मसूड़ों में पायरिया की समस्या थी लेकिन लगातार 1-2 महीने तक कपालभाति प्राणायाम करने से उनका यह रोग जड़ से ख़त्म हो गया.

कपालभाति के जरिये बहुत से लोगों ने पायरिया से छुटकारा पाया है. यह पायरिया को जल्दी ख़त्म नहीं करता थोड़ा समय लेता हैं, लेकिन पायरिया को हमेशा के लिए ख़त्म कर देता हैं. और अगर आप चाहते है की जल्दी ख़त्म हो तो आधे घंटे से ज्यादा रोजाना खुली ताज़ी हवा में कपालभाति प्राणायाम करे, आप सिर्फ एक महीना ही इसे करके देखे और फिर हमे बताना.

Kapalbhati Pranayama

अगर समय की कमी है तो आप रोजाना कम से कम सुबह के 10-15 मिनट कपालभाति को दें तो यह आपको ऐसी मसूड़ें देगा जो की 100 साल की उम्र तक कमजोर नहीं होंगी. और कपालभाति का यह पायरिया का उपाय दांतों की सारी समस्याओ से छुटकारा भी दिलाएगा.

बाबा रामदेव ने एक शिविर में बताया था की उन्हें भी दांतो की समस्या थी लेकिन जब से प्राणायाम की शरण में आये थे तब से ही उन्हें दांतो से जुडी सभी समस्याओं में काफी आराम हुआ हैं. इसलिए वह सभी तरह के दांतो के रोगियों को कपालभाति करने की सलाह देतें हैं.

अगर आपको दांतो को स्वस्थ रखना हैं तो इसके लिए जरुरी हैं की आप कब्ज की समस्या से दूर रहे. क्योंकि कब्ज और पाचन तंत्र से जुडी समस्या से दांत भी प्रभावित होते हैं. और अंजाम में दांत भी पिले, कमजोर होने लगते हैं. इसका प्रभाव मसूड़ों पर भी पढता हैं.

कुल्ला करने की आदत बनाये

आज के समय में यानी मॉडर्न ज़माने में लग भाग सभी लोग कुल्ला करना भूल गए हैं, और कुल्ला न करने से ही दांतो से जुडी समस्याए पैदा होती हैं, क्योंकि खाना खाने के दौरान दांतो में खाने के कुछ अंश रह जाते हैं और कुल्ला न करने से यह दांतो में ही लंबे समय तक फंसे रहते हैं. जिससे दांतो में Virus जन्म ले लेते हैं और दांतो को कमजोर करते हैं साथ ही जब यह कचरा पेट में पहुंचता हैं तो यह पेट को भी खराब करता हैं.

  • पायरिया में बाबा रामदेव ने और क्या उपाय बताये थे इसके बारे में पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए आप यहाँ निचे क्लिक करे – पायरिया की दवा Pyria, Cavity, Gum, Teeth

इसके लिए आपको एक आदत बनाना होगी की आप जब भी खाना या नाश्ता करे तो इसके साथ ठीक से कुल्ला भी करे ताकि दांतो में किसी भी तरह का कचरा न रह जाए.

तो दोस्तों इस तरह आप घर पर ही पायरिया का इलाज के उपाय payriya treatment in Hindi अपनाकर मसूड़ों की समस्या, दांतों की समस्या से छुटकारा पा सकेंगे. इसके साथ ही बाबा रामदेव के घरेलु उपचार नुस्खे जिसमे कपालभाति है वह भी करे तो पायरिया का जड़ से उपचार  हो जायेगा.

Advertisement
loading...

2 Comments

  1. Ask Your Question
  2. abhijeet

Leave a Reply

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.